श्री अटल बिहारी वाजपेयी के प्रति श्रद्धांजलि

देश में में ना होगा लाल ऐसा। पूर्व प्रधानमंत्री अटल जैसा।।

भारत की बलिवेदी पर तिरंगा यूं ही  लहराता रहे।।

सर्वस्व अपना लुटाने की खातिर सदा उनके गीत गाता रहे।

नतमस्तक होकर आज उन्हें हम सलाम करते हैं।

उनके प्रति सच्ची श्रद्धा सुमन अर्पित कर।

उन्हें अश्रुपूर्ण आंखों से विदा करते है।

दिल से है यही दुआ हमारी।

उन्हें हम  अपनें दिलों में   याद करते रहे।

देश के प्रति अपना फर्ज निभा कर उनके प्रशंसनीय कार्य को शहराते रहें।

आने वाली पीढ़ियों को यही समझाते रहे। उनके पुण्य कर्मों की उदारता को  यूं ही सराहतें रहें।

एक बार फिर देशवासियों को नमन हमारा। झुके ना कभी ध्वज यही है स्वपन  हमारा।

भारत रत्न कवि हृदय साहित्यकार उनके जैसा श्रेष्ट नेता हमने खोया है।

उन्हें नम आंखों से विदा कर हर कोई रोया है।

 

ऐसा पुण्य आत्मा सभी देशवासियों के दिल पर राज करता रहेगा।।

उनके जैसा ही बनने की उमंग जगाता रहेगा। उनके कृत्य संकल्पों को चरितार्थ कर दिखाना होगा

पूर्व प्रधानमंत्री  अटल जैसा बनकर दिखाना। होगा।

 

आने वाली पीढ़ियों को भी यही समझाना होगा।

देश की माटी में जन्मे हर पुरुष और नारी को आगे आना होगा।

देश के प्रति आगे आकर फर्ज अपना निभाना होगा।

लहू का कतरा कतरा देखकर उनके साहसी कृत्य को सराहना होगा।

ं युद्ध के मैदान में भी करिश्मा अपना दिखाना होगा

दुश्मनों के झूठे प्रपंच को मिटाना होगा।

जो उन्होंने हम से छीना है उन्हें वापस हमें लौटाना होगा।

असहाय अबलाओं पर कोई आंच ना आए। मासूम कली निराश होकर जग से ना जाए। कालिख पोतने वाले झूठे मक्कारों को।

उनके घिनौने कृत्य की सजा दिखाकर।

उन्हें फांसी के तख्ते पर पहुंचाना होगा।

अटलजी के संकल्पों को चरितार्थ कर दिखाना होगा।

अटल जी जैसा नेता बन कर दिखाना होगा। अटल जी जैसे सच्चे देशभक्त को हमारा कोटि कोटि नमन।

Posted in Uncategorized

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *