जादुई जूते

बहुत समय पहले की बात है कि एक छोटे से गांव में राजू अपने माता पिता के साथ रहा करता था। वह छठी कक्षा का छात्र था। उसके माता-पिता मध्यम वर्गीय परिवार से संबंध रखते थे। वह बहुत ही भोला भला छात्र था। हर रोज स्कूल जाता था। अपने माता-पिता का हमेशा कहना मानता था।… Continue reading जादुई जूते

अभिमान का परिणाम

11/12/2018 किसी जंगल में एक शेर रहता था। जंगल में सभी जानवर शेर के आतंक से डर कर रहते थे।वह कभी ना कभी उनको मार कर खा जाया करता था। एक दिन सभी जानवरों ने राजा को कहा कि आपका कर्तव्य है हमारी रक्षा करना। आप ही हमें नुकसान पहुंच जाओगे तो हम कभी भी… Continue reading अभिमान का परिणाम

अच्छी आदतें भाग(2) | मुहावरों का प्रयोग

रामू घर आकर बोला मां मेरे पेट में चूहे हैं कूद रहे। मां धमा चौकड़ी मचा कर परेशान है कर रहे।। मां आकर बोली तू है मेरी आंख का तारा। प्यारा प्यारा राज दुलारा।। पढ़ाई में हमेशा ध्यान लगाना। कक्षा में इस बार भी अव्वल आ कर दिखाना।। रामू बोला बहना से :-तू क्यों मुझ… Continue reading अच्छी आदतें भाग(2) | मुहावरों का प्रयोग

अच्छी आदतें

मां द्वारा सिखाई आदतें जिंदगी में है काम आती। खाना खाने से पहले हाथों को धोना, हर रोज ब्रश करना, रोज नहाने की आदत भी अपना चमत्कार है दिखलाती।। इन आदतों से बच्चे का पढ़ाई में मन भी  है लगता। हर दम चेहरा खिला खिला है रहता ।। बिस्तर पर जूतों संग कभी ना चढ़े।… Continue reading अच्छी आदतें

(रिश्ते तो अनमोल होतें हैं) कविता

रिश्ते तो अनमोल होते हैं। ये तो भगवान की दी हुई शानदार नियामत होतें हैं।। । भाई बहन पति पत्नी सास ससुर और अनेको रिश्वते हैं दिए हुए। उन रिश्तों में अपनी अपनत्व की मिठास घोल दिजीए। उन रिश्तों का दामन खूबसूरती से पकड़े रखिए।। उन की खुशी के लिए अपनी तरफ से कभी पिछे… Continue reading (रिश्ते तो अनमोल होतें हैं) कविता