सच्ची मित्रता

राम और श्याम बहुत ही पक्के मित्र थे। एक दिन की बात है कि दोनों दोस्त जंगल में शिकार  करने गए हुए थे। छोटे छोटे जानवरों का शिकार किया करते थे । उन्हीं शिकार करने का बहुत ही शौक था जो कुछ शिकार करते हुए बाजार में बेच कर जो भी रुपया मिलता वह भी… Continue reading सच्ची मित्रता

Posted in Uncategorized

बेटियां

अपनी तकदीर से जहां को रोशन करती है बेटियां। बेटियों से संसार में बहार होती है। बेटियां तो जहां की दिलदार होती हैं।। बेटियों से ही है घर की शोभा शोभायमान होती है। बेटियां तो रुतबा शोहरत और तख्तो-ताज की हकदार होती हैं।।   बचपन में मां-बाप की दहलीज पर पली युवा होने तक उन… Continue reading बेटियां

Posted in Uncategorized